“Thar Desert”

“थार मरुस्थल: The Great Indian Desert”
पश्चिमी राजस्थान में है, महान् भारतीय मरु प्रदेश

थार है नाम जिसका, टेथिस सागर का वो अवशेष
जैव विविधता और जनसंख्या में यह सबसे आगे है

जुरेसिक एवं इयोसिन युग से जुड़े हुए इसके धागे हैं
पंजाब सिंध गुजरात तक, फैला हुआ यह किस्सा है

राजपूताना में यूं तो इसका, इकसठ फीसद हिस्सा है
धोरों की यह धरती, दिन में तपती व रात में ठिठुरती है

रेतीले टीलों पर सूरज की किरणें, सोने जैसी लगती हैं
टर्शियरी चट्टानों के कारण, खनिज भंडार मौजूद हैं

बलुई मिट्टी एवं न्यून वर्षा, इन्हीं से इसका वज़ूद है
राजस्थान के बारह जिलों में, इसका आधिपत्य हैं

जैसलमेर बाड़मेर बीकानेर व श्रीगंगानगर मुख्य हैं
कहीं बालुका स्तूप दिखते हैं, तो कहीं पर फोसिल्स मिलते हैं

राज्य पक्षी गोडावण भी तो, अक्सर यहीं पर विचरण करते हैं
हाफ मून से दिखने वाले, इन टीलों का नाम हैं बरखान

यह बंजर और सूखी ज़मीन, स्टेट ट्यूरिज्म की है जान
रेगिस्तान का जहाज है ऊँट, बड़ी शानदार इसकी सवारी

ड्यूल स्टेप में उठकर जो, कराए फिर खुद अपनी सफारी
Royal म्हारो राजस्थान, रहते जहाँ पर Lion Heart

Land of Sand थार, The Great Indian Desert.
@RockShayar
#ObjectOrientedPoems(OOPs)

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s