“राजस्थान के किले(Forts of Rajasthan)”

#ObjectOrientedPoems(OOPs)

दुश्मन के लिए फौलाद की ढ़ाल हैं, राजस्थान के किले
कारीगरी में बेहतरीन, बेमिसाल हैं राजस्थान के किले

राजपूताना के इतिहास में, नहीं कोई ऐसा भय्या
गढ़ो में गढ़ चित्तौड़गढ़, बाकी तो हैं सब गढ़ैया

देखने पर सिर से पगड़ी गिर जाए, इतनी बुलंदी पर बना है
पाकर कुम्भलगढ़ किले को देखो, अरावली का सीना तना है

पत्थर पर पत्थर रखकर, सोनार का किला खड़ा है
यूं लगे कि समंदर में जैसे, लंगर डाले जहाज खड़ा है

सात पहाड़ियों से घिरा हुआ, बख़्तरबंद किला है रणथम्भौर
सुरक्षा व्यवस्था में बेशक, सानी नहीं इसका कोई और

आहू और कालीसिंध नदी के, संगम पर यह जल दुर्ग
परमार शासकों द्वारा निर्मित, झालावाड़ का गागरोण दुर्ग

चिल्ह के टीले पर, सवाई जयसिंह ने जयगढ़ बनवाया
बड़ी तोप जयबाण के संग, तोप का कारखाना खुलवाया

जयपुर का रहस्यमय मुकुट, नाहरगढ़ कहो या सुदर्शनगढ़
माधो सिंह ने बनवाये जहां, एक जैसे दिखने वाले नौ गढ़

मुगल-राजपूत गठजोड़ का, नायाब नमूना है आमेर किला
शिलादेवी और जगत शिरोमणि का, इसको आशीर्वाद मिला

गढ़बीठली कहो या ज्रिबाल्टर, अजमेर में स्थित है तारागढ़
मीरां साहब की दरगाह और, मेरवाड़ा पहाड़ी पर यह गढ़

अकबर ने अजमेर में, बनवाया मैगजीन का किला
इसी किले में टाॅमस रो बादशाह जहाँगीर से मिला

दक्किन का द्वारपाल, धौलपुर में है एक और गढ़
शेरशाह ने उद्घार कर के, नाम दिया उसे शेरगढ़

जाने किस मिट्टी से बना है भरतपुर का लोहागढ़
कोई नहीं जीत पाया इसे ऐसा है यह अनोखा गढ़

सोनगिरी की पहाड़ियों पर, जालौर में है सुवर्णगिरी
सूकड़ी नदी के किनारे पर, परमारों द्वारा किस्मत फिरी

चिड़ियाटूँक पहाङी पर, जोधपुर का मयूरध्वज है मेहरानगढ़
चामुण्डा माता की शरण में, देवताओं द्वारा निर्मित यह गढ़

बीकानेर के जूनागढ़ को, गंगा-जमुनी तहज़ीब जची है
सूरजपोल द्वार पर जिसके, जयमल-पत्ता की मूरत लगी है

बूँदी का तारागढ़ किला, प्रेतों द्वारा बनाया लगता है
हनुमानगढ़ का भटनेर तो जी, फौलाद का साया लगता है

सिरोही जिले की शान, माउंट आबू और अचलगढ़
राजस्थान का वेल्लोर है, चित्तौड़ का भैंसरोड़गढ़

दुर्ग स्थापत्य कला का, उत्कृष्ट उदाहरण है राजस्थान
उतर आया सब कविता में, पढ़ा मैंने जो भी ज्ञान।

Copyright © 2016
RockShayar Irfan Ali Khan
All rights reserved.
#विषयवस्तुआधारितकविताएं(विआक)
राॅकशायर.वर्डप्रेस.काॅम

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s