“Comedy Nights with Kapil”

#ObjectOrientedPoems(OOPs)

Comedy-nights-with-kapil poem cmpressed.jpg

हँसी ठहाकों की बारिश में, झूमे नाचे गाए ये दिल
टीवी शोज में न. वन, कॉमेडी नाइट्स विद कपिल

कलर्स पर हर संडे को, लगती है खुशियों की सेल
ज़िंदगी के रंज़ो ग़म को, कहते जहाँ सब गो टू हेल

जीतेंगे हम अपनी बाज़ी, कहते आए सिद्धू पाजी
रॉकिंग है शायरी इनकी, थोको गुरु ताली वाह जी

कभी बिट्टू, कभी सिट्टू, कभी बने जो शमशेर
ब्लॉकबस्टर बंदा कपिल, उसके आगे सब है ढ़ेर

एक्टर प्रोड्यूसर सिंगर क्रिकेटर, या हो बॉलीवुड ब्यूटीज
इस घर में सब आते है, विदाउट नख़रा फॉर्मल ड्यूटीज

पलक और गुत्थी की जोङी, जैसे भागे उल्टी घोङी
मेहमानों की टांग खींचे, डांस की तो कमर है तोङी

कहती है यूँ तो खुद को, ट्वेंटी टू यर ओल्ड बुआ
देखा ज्योंही चिकना मुंडा, दिल से उठता है धुआँ

बुनियाद है मजबूत जिसकी, वो है टल्ली डॉली दादी
शगुन की पप्पी लेकर, हाँ बनती है फिर भोली भाली

नेशनल हाईवे की तरह, होंठ है जिसके वर्ल्ड वाइड
शर्माजी की पत्नी मंजू, करती है हर रोज ही फाइट

पतीले सा मुँह है जिसका, वो है नौकर राजू इनका
दूध दे ना दे बकरी, पर खाती है लाखों का तिनका

कहानी में एक यू टर्न, नाम है उसका रामू दुबई रिटर्न
पैसों की कोई कमी नहीं हैं, भरता रोज आयकर रिटर्न

खटारा बस की तरह, वाइब्रेट करता है चड्डा ठाला
फोन आ रहा है मेरा, कहके कट लेता है बुड्ढा साला

हँसी ठहाकों की बारिश में, झूमे नाचे गाए ये दिल
टीवी शोज में न. वन, कॉमेडी नाइट्स विद कपिल ।।

Copyright © 2015, RockShayar 
Irfan Ali Khan
All rights reserved.
http://www.rockshayar.wordpress.com

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s